Wednesday, April 1, 2009

मेरा बागी बौराया मन..














नहीं कभी भाता मुझे,
निराशा का करुण क्रंदन,
मोहित करता है मुझे,
असीम आशा का स्पंदन..

लड़ते रहना है तुझे,
जब तक चलता है जीवन,
हर पल उकसाता है मुझे,
मेरा बागी बौराया मन..

शीश कटे पर ना झुके,
नहीं करना कभी समर्पण,
मानवता की सौगंध तुझे,
आज अभी कर ले ये प्रण॥

(चंद विचार अदम्य साहस के साथ, समर्पित हर जुझारू व्यक्ति को...)
~जयंत चौधरी...
१ अप्रैल, २००९

15 comments:

MANVINDER BHIMBER said...

maali us raah par rakh dena mujhe .......

परमजीत बाली said...

बहुत बढिया!!

mehek said...

aasha se mann ulhasit ho gaya,bahut sunder rachana badhai

Udan Tashtari said...

उत्तम रचना!!

अनिल कान्त : said...

बहुत ही ख़ास तरह का लेखन है आपका

मेरी कलम - मेरी अभिव्यक्ति

mark rai said...

kaaphi badhiya...itane achchhe vichaar kahan se laate hai...

Jayant Chaudhary said...

मार्कंडेय जी,

माँ सरस्वती की ही कृपा है... उनकी बताया ही लिखता हूँ..
मेरा कुछ भी नहीं... सब उनकी प्रेरणा है.

आपके शब्दों का कोटि कोटि धन्यवाद...

~जयंत चौधरी

Jayant Chaudhary said...

उड़न-तश्तरी जी,

उड़ते उड़ते यहाँ पर लैंड करने के लिए धन्यवाद... आशा करता हूँ आपको यह अड्डा अच्छा लगा,
और भविष्य में भी आप यहाँ पधारेंगे... और हाँ, वोह आपकी चमकती रोशनियाँ बहुत अच्छी लगीं :))

महक जी,

आते रहियेगा और इस तुच्छ ब्लॉग को महकाते रहियेगा..

अनिल कान्त जी.

आपकी कान्ति भी आवश्यक है इस ब्लॉग पर... तो आते रहें और हमें प्रकाशमान करतें रहें.. :))


मनविंदर जी एवं परमजीत जी,

पहली बार टिपण्णी लिखने का धन्यवाद.. आगे भी पधारें.

आप सबका कोटि कोटि धन्यवाद..

~जयंत

मीत said...

बहुत सही है भाई.

अल्पना वर्मा said...

सकारात्मक भावों को भरती,एक प्रेरणादायक कविता.
बहुत अच्छी लगी.

freespaceofindia said...

behad hi behtar rachna

Reecha Sharma said...

behad hi behtar rachna

Tripti said...

Hi Jayant,

Once again m here, actually m really influenced by your way of writing and would wait to read more, also would like if you write something about death as m dealing with it these days.
Your poetry attracts me, it has some kind of attraction and i am not able to find the right word for it.
Just keep writing !!

Indrani said...

Thanks for the flood of comments at my blog. They are precious to me. :)

neha said...

very nice.....

Blogvani

www.blogvani.com

FeedBurner FeedCount